रतलाम गैंगरेप पर समाज की तीखी प्रतिक्रिया

\"\"

कान्वेंट स्कूल की छात्रा को ब्लैकमेल कर किया गैंगरैप जिम्म्मेदार अधिकारियों के ढीले रवैये

हिन्दू संगठनों ने तीखा विरोध किया

गैंगरेप के आरोपियों को पुलिस रिमांड पर भेजे जाने की मांग को लेकर बीती रात से जारी वकीलों का समाप्त हो गया है। पास्को एक्ट विशेष न्यायाधीश साबिर अहमद खान ने अभियोजन द्वारा प्रस्तुत आवेदन पर सुनवाई करते हुए आरोपियों 2 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजने का आदेश दिया। इसके साथ वकीलों द्वारा दिए गए पांच सूत्री आवेदन को न्यायाधीश महोदय पुलिस के अनुसंधान अधिकारी भेजने के निर्देश दिए, ताकि अनुसंधान में इन बिन्दुओ को भी जोड़ा जा सके।

उल्लेखनीय है कि वकीलों के धरने की खबर मिलने के बाद से न्यायालय परिसर नागरिकों की भीड़ जुट रही थी। सुबह 9:00 बजे से न्यायालय परिसर लोगों की भारी भीड़ जमा थी । धरना दे रहे अभिभाषक न्यायालय कक्ष के बाहर धरना देकर बैठे हुए थे। ठीक 11:00 बजे न्यायाधीश श्री साबिर अहमद खान न्यायालय में पहुंचे और अभियोजन अधिकारी ने पुलिस अनुसंधान कर्ता के साथ आरोपियों को पुलिस रिमांड पर दिए जाने का आवेदन प्रस्तुत किया। आवेदन पर सुनवाई करते हुए न्यायाधीश श्री खान ने आरोपियों को पुलिस रिमांड पर भेजे जाने का आदेश दिया ।इसके पश्चात अभिभावकों द्वारा प्रस्तुत आवेदन पर विचार करते हुए न्यायाधीश ने उक्त आवेदन को पुलिस के अनुसंधान कर्ता को भेजने का निर्देश दिया ताकि उस पर कार्रवाई की जा सके। न्यायालय द्वारा आरोपियों को पुलिस रिमांड पर भेजे जाने का आदेश होने के बाद न्यायालय परिसर मैं एकत्रित लोगों मैं उत्साह की लहर फैल गई। न्यायालय परिसर के बाहर आकर लोगों भारत माता की जय के नारे लगाए।

\"\"

रतलाम| सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल में पढ़ने वाली नाबालिक छात्रा को ब्लैकमेल कर गैंगरेप का मामला प्रकाश में आया है| पीड़ित के साथ पढने वाले छात्र …… ने फोटोशॉप फोटो के माध्यम से ब्लैकमेल कर घर पहुँच कर रुपयों की मांग की|

14 वर्षीय नाबालिक छात्रा को उसी के सहपाठी छात्र. ….. द्वारा बहला फुसलाकर आशीर्वाद होटल के एक कमरे पर ले गए यहाँ पहले से मौजूद आरोपी के सहयोगी होटल मैनेजर इमरान पिता रईस खान निवासी रहमत नगर एवं आवेद अली ने गैंगरेप का शिकार बनाया।

इस वीभत्स घटना के विरोध में शहर में दिन भर विरोध प्रदर्शन होते रहे

\"\"

गुरुवार को हजारो लोग सडकों पर उतरकर दोषियों को फांसी देने की मांग की

विद्यार्थियों में घटना के विरोध में एक दिन स्कूल बंद रखा| प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थियों पर पुलिस ने आसू गैस के गोले छोड़े तथा लाठिया भांजी पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे ०५ छात्रों को गिरफ्तार किया, जिन्हें बाद में छोड़ दिया गया

पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष पेश किया जहाँ से न्यायाधीश……….. ने आरोपियों को बल सम्प्रेष गृह भेज दिया|

आधिवक्ता संघ ने भी आरोपियों के बाल सम्प्रेष गृह भेजे जाने हेतु न्यायालय परिसर में धरना पप्रदर्शन कर दोषियों पुलिस रिमांड में भेजे जाने की मांग की| धरने के कारण से बड़ी मात्रा में नागरिक भी न्यायालय परिसर पहुँच रहे है|

\"\"

अधिवक्ता संघ ने धरना प्रदर्शन करते हुए 5 सूचि आवेदन को न्यायाधीश महोदय ओर पुलिस अधिकारी के अनुसंधान में जोड़ने के मांग की|

अंततः ………… पुलिस रिमांड पर भेजे गए आरोपी

व्यापक एवं तीव्र विरोध प्रदर्शनों के चलते प्रशासन ने बाल सम्प्रेषण गृह भेजे गए सभी आरोपियों को 2 दिन की पुलिस रिमांड पर लिया|

\"\"/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *